उत्तर प्रदेशकन्नौज

कन्नौज-सुमंगला योजना की बैठक में डीएम के कडे निर्देश

कन्नौज-सुमंगला योजना की बैठक में डीएम के कडे निर्देश

सुमंगला योजना की बैठक में डीएम के कडे निर्देश
कन्नौज। आवेदन पत्रों के सत्यापन की कार्यवाही आज ही सुनिश्चित करते हुये प्रस्तुत किये जाये। किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाये। कोई भी आवेदन पत्र किसी भी दशा में लम्बित नही रहना चाहिए।
उक्त निर्देश आज जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की बैठक की अध्यक्षता करते हुये संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होनें कन्या सुमंगला योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु जिला प्रोबेशन अधिकारी से प्राप्त आवेदन पत्रों एवं फीडिंग की कार्यवाही के संबंध में विस्तार से चर्चा की, जिसमें बताया गया कि उपजिलाधिकारी एवं खण्ड विकास अधिकारियों के स्तर से काफी मात्रा में सत्यापन की कार्यवाही हेतु आवेदन पत्र लम्बित है इस पर उन्होने स्वयं सभी उपजिलाधिकारियों को मोबाइल के माध्यम से निर्देशित करते हुये कहा कि कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत लम्बित आवेदन पत्रों के सत्यापन की कार्यवाही आज ही सुनिश्चित कराते हुये संबंधित अधिकारी को उपलब्ध कराये।जिलाधिकारी ने इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी को भी सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये जाने के निर्देश दिये। उन्होनें निर्देशित करते हुये कहा कि सत्यापन की कार्यवाही के दौरान आय, निवास प्रमाण पत्र आदि महत्वपूर्ण नियमों का विशेष ध्यान दिया जाये। कोई भी पात्र छात्रा इस योजना से वंचित न रहे तथा शासनादेश का सक्षरशः पालन सुनिश्चित किया जाये। उन्होनें जिला विद्यालय निरीक्षक एंव खण्ड शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि संबंधित आवेदन पत्र की पात्रता के संबंध मंे यह सुनिश्चित किया जाये कि लाभार्थी का परिवार उत्तर प्रदेश का मूल निवासी हो, तथा लाभार्थी की पारिवारिक वार्षिक आय अधिकतम 3 लाख रू0 हो तथा अधिकतम 2 बालिकाओं को इस योजना से लाभान्वित किया जाये।
उन्होनें बताया कि प्राथमिक रूप से आवेदन आनलाइन के माध्यम से स्वीकार किये जायेगें। यदि आवेदक आनलाइन माध्यम से आवेदन करने से सक्षम नही है। वह अपने आवेदन आफलाइन माध्यम से उपजिलाधिकारी , खण्ड विकास अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी को उपलब्ध करा सकते है। सभी विद्यालयों में यह सुनिश्चित किया जाये कि कोई भी पात्र छात्रा लाभ से वंचित न रहे। उन्होनें यह भी निर्देश दिये कि पंजीकरण की कार्यवाही में नियमों का विशेष ध्यान रखा जाये।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला प्रोबेशन अधिकारी, खण्ड शिक्षा अधिकारी आदि अधिकारी एंव कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
यूपी ताजा न्यूज़