बांदाबुंदेलखंड

बांदा-औषधीय खेती के लिए किसानों को किया जाएगा जागरूक

बांदा-औषधीय खेती के लिए किसानों को किया जाएगा जागरूक

औषधीय खेती के लिए किसानों को किया जाएगा जागरूक
– अश्वगंधा और तुलसी पौध स्वीकृति के लिए डीएम ने लिखा पत्र
बांदा। जिलाधिकारी हीरालाल ने जनपद के किसान भाइयों को रहीम जैव ऊर्जा फार्मर प्रोड्युसर कम्पनी लिमिटेड एफपीओ द्वारा चयनित 25 कृषकों की 25 एकड़ भूमि पर औषधीय पौध अश्वगन्धा तथा तुलसी व्यवसायिक कृषिकरण के लिए कृषि इनपुट बीज/पौध स्वीकृत किये जाने के सम्बन्ध में पत्र लिखा है।
जिलाधिकारी ने बताया कि रहीम जैव ऊर्जा फार्मर प्रोड्यूसर कम्पनी एफ.पी.ओ. द्वारा औषधीय पौध अश्वगन्धा, सतावर, कोंच के व्यवसायिक कृषिकरण प्रदर्शन ईकाई स्थापना के लिए कृषि निवेश बीज/पौध की व्यवस्था करायी जाती है तथा कृषि निवेश बीज/पौध की कृय धनराशि बीज की मूलप्रति तथा प्रत्येक किसान को कृषि निवेश बीज/पौध उपलब्ध कराकर प्राप्त रसीद मूल रूप में प्राप्त कर बोर्ड को उपलब्ध कराया जायेगा। एफ.पी.ओ. द्वारा सम्बन्धित चयनित किसानों के औषधीय पौध, बुआई/रोपण के उपरान्त बोये/रोपे गए खेत के जी.ओ. टैग फोटोग्राफ्स किसान के फोटो सहित प्राप्त कर बोर्ड को उपलब्ध कराया जायेगा। इसके बाद व्यवसायिक औषधीय पौध कृषिकरण के लिए चयनित किसानों को विधायन मूल्य सम्वर्द्धन तथा विपणन की सुविधा एफ.पी.ओ. द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी।  खेत बुआई/रोपण की प्रगति रिपोर्ट फोटो सहित एफ.पी.ओ. द्वारा बोर्ड को प्रस्तुत किया जायेगा तथा रिपोर्ट की एक प्रति जी.ओ. टैग फोटो सहित एफ.पी.ओ. कार्यालय को भी रखा जायेगा जिससे बोर्ड/कार्यक्रम से जुडे अधिकारी भ्रमण के दौरान निरीक्षण कर सकें। उन्होंने बताया कि एफ.पी.ओ. के पदाधिकारी जैव ऊर्जा एवं पर्यावरण अनुकूल कृषि के माध्यम से लोक कल्याण संकल्प पत्र 2017 में किसानों की आय दो गुनी किए जाने के एजेन्डे तथा जल संचयन एवं पर्यावरण संरक्षण को गति प्रदान कर बोर्ड को सहयोग करेंगे। जिलाधिकारी ने समस्त लाभार्थी किसान आगामी फसली वर्ष में व्यवसायिक औषधीय पौध कृषि करण के लिए अपने क्षेत्र के अन्य कृषकों को जागरूक/प्रोत्साहित करेंगे। उन्होंने जनपद के किसान भाइयों सेे एफ.पी.ओ. द्वारा चलायी जा रही योजना का लाभ उठाने की अपेक्षा

Leave a Reply

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
यूपी ताजा न्यूज़