बुंदेलखंडराठहमीरपुर

हमीरपुर-लेनदेन के विवाद के चलते हुआ गोलीकांड

हमीरपुर-लेनदेन के विवाद के चलते हुआ गोलीकांड

लेनदेन के विवाद के चलते हुआ गोलीकांड
    चांदपुर के युवक को पतारा श्रमदान में मारी गोली
    पुलिस को नहीं दी गुमसुदगी व अपहरण की सूचना
हमीरपुर- थाना कुरारा क्षेत्र के पतारा गांव के पास कुछ लोगों ने एक युवक को गोली मारकर घायल किए जाने के मामले की जांच हमीरपुर व फतेहपुर पुलिस द्वारा की जा रही है। चांदपुर के पहाड़पुर बडिगवां गांव से चार दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुए युवक को पतारा श्रमदान इलाके में गोली मार दी गई। गंभीर रूप से घायल युवक को पुलिस जिला अस्पताल ले गई, जहां उसकी हालत नाजुक देख कानपुर के लाला लाजपत राय अस्पताल (हैलट) रेफर कर दिया गया। पुलिस ने घायल के बयान लेकर घटना को अंजाम देने वाले आरोपितों की तलाश शुरू की है। चांदपुर के पहाड़पुर बडिगवां गांव निवासी छोटेलाल का बेटा जयकरन यादव खेती किसानी करता है। जयकरन यादव बीती सात अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था। कुरारा थाना क्षेत्र के पतारा श्रमदान गांव के पास उसे अज्ञात लोगों ने गोली मार दी। लोगों से सूचना मिलते ही पुलिस ने उसे आनन फानन सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पुलिस को बयान देते हुए जयकरन ने बताया कि गांव के ही राममोहन उमराव व उसके साथियों ने उसका सात अगस्त को अपहरण कर लिया था। इस दौरान उसे अज्ञात स्थान पर रखा। वहीं आरोपित उससे रुपयों की मांग कर रहे थे। मना करने पर राम मोहन उमराव व उसके साथियों ने गोली मार दी। अस्पताल में हालत नाजुक देखकर उसे कानपुर रेफर कर दिया गया। अब जयकरन का इलाज कानपुर के एलएलआर अस्पताल में चल रहा है। मामले में कुरारा पुलिस ने भी जांच शुरू की है। कुरारा इंस्पेक्टर अनिरुद्ध सिंह ने बताया कि पीड़ित के परिजनों ने थाने में अपहरण की कोई सूचना नहीं दी है। फतेहपुर जनपद के चांदपुर थानाध्यक्ष राजीव सिंह का कहना है कि लापता व अपहरण होने की कोई सूचना थाने में नहीं है। जानकारी मिली है कि मृतक का लेन-देन का विवाद है कि जांच की जा रही है।

कुरारा की बजबजाती गलियां व कीचड़ भरे रास्ते, डीएम का आदेश ठेंगे पर
हमीरपुर-नगर पंचायत कुरारा की गलियां कीचड़युक्त बजबजाती होने के कारण लोगों का निकलना मुश्किल है। जबकि जिलाधिकारी ने नगर पंचायत अध्यक्ष व अधिशाषी अधिकारी को स्पष्ट निर्देश दिए थे कि बकरीद व सावन के त्योहार के चलते साफ-सफाई पूरी तरह से कराई जाये। वहीं 15 अगस्त को एक ऐसे मोहल्ले को नामित किया जाना है, जहां सबसे अधिक साफ-सफाई कराई गई हो। वहां के सफाई कर्मचारी को पुरस्कृत किया जाएगा। लेकिन नगर पंचायत कुरारा जिलाधिकारी के आदेश को ठेंगे में रखे हुए है। कस्बे का वार्ड नंबर दो मटेहना मोहाल गंदगी से जूझ रहा है। जिससे जगह जगह बजबजाती नालियां व गंदगी तथा नालियों में लोटते सुअर वार्ड की पहचान बन गए है। नाले, नालियों की गंदगी से लोगों को बीमारियों के फैलने का अंदेशा बना रहता है। वार्ड की समुचित साफ सफाई यहां की प्रमुख समस्या है। इसके अलावा जगह जगह टूटी जल संस्थान की पाइप लाइन भी लोगों के लिए परेशानी का सबब बनी है। जिससे कई लोगों को सप्लाई का पानी नहीं मिल पा रहा है। वही मोहल्ले के ज्यादातर हैंडपंप भी खराब पड़े हुए है। कई बार शिकायत करने के बाद भी इनकी मरम्मत नहीं कराई जाती है।

Leave a Reply

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
यूपी ताजा न्यूज़